ISIS मॉड्यूल केस में गिरफ्तार आरोपियों को लेकर NIA का बड़ा खुलासा,ये थी प्लानिंग
bisnoe-samachar

ISIS मॉड्यूल केस में गिरफ्तार आरोपियों को लेकर NIA का बड़ा खुलासा,ये थी प्लानिंग

WhatsApp Group Join Now
 
ISIS मॉड्यूल केस में गिरफ्तार आरोपियों को लेकर NIA का बड़ा खुलासा,ये थी प्लानिंग

Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली-  महाराष्ट्र में ISIS मॉड्यूल केस में गिरफ्तार किए गए 6 आरोपियों को लेकर नए खुलासे हुए हैं। NIA ने अपनी चार्जशीट में बताया है कि आरोपियों ने भोले-भाले मुस्लिम युवाओं को आतंकी संगठन में भर्ती करने की प्लानिंग बनाई थी।

भारत में आतंकी घटनाओं को अंजाम देने के लिए मुस्लिम युवाओं के बीच प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा था। इसके लिए महाराष्ट्र के ठाणे जिले के बोरीवली में कई बैठकें की गईं। इन बैठकों में वे ISIS की गतिविधियों को अंजाम देने की प्लानिंग करते थे।

सभी आरोपी प्रतिबंधित आतंकी संगठन ISIS के सदस्य हैं। उनका मकसद भारत की सुरक्षा, संस्कृति और लोकतांत्रिक प्रणाली को खतरा पहुंचाना था। वे देश के लोगों के बीच भय और आतंक पैदा करना चाहते थे।

NIA ने 2023 के जुलाई में महाराष्ट्र के अलग-अलग ठिकानों पर रेड की थी। इस दौरान आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था। इनकी पहचान अदनान अली सरकार, ताबिश सिद्दीकी, जुल्फिकार अली, शरजील शेख, आकिफ अतीक नाचन और जुबैर शेख के रूप में की गई।

गुरुवार (28 दिसंबर) को NIA स्पेशल जज एके लाहोटी की कोर्ट में आरोपियों के खिलाफ 4000 हजार पन्नों की चार्जशीट दायर की गई। इस चार्जशीट में 16 गवाहों के बयान को आधार बनाया गया है।

इसमें कहा गया कि आतंकी अपने सहयोगियों के साथ DIY (डू इट योरसेल्फ) किट शेयर कर रहे थे। साथ ही आतंकी योजनाओं के लिए धन जुटा रहे थे। उन्होंने कुछ युवाओं की भर्ती भी की और उन्हें IED और छोटे हथियार बनाने की ट्रेनिंग दी।

क्या है ISIS मॉड्यूल केस?
इस साल 18 जुलाई को पुणे में टू-व्हीलर चुराने के मामले में पुणे पुलिस ने शाहनवाज और मध्यप्रदेश के दो लोगों- मोहम्मद इमरान खान और मोहम्मद साकी को गिरफ्तार किया था। जब पुलिस पूछताछ के लिए उन्हें उनके ठिकाने पर ले जा रही थी तो शाहनवाज पुलिस की गाड़ी से कूदकर फरार हो गया।

मोहम्मद इमरान खान और मोहम्मद साकी से पूछताछ के दौरान पता चला कि दोनों सुफा टेररिस्ट गैंग का हिस्सा हैं। अप्रैल 2022 में राजस्थान में एक कार में विस्फोटक मिलने के मामले में वहां की पुलिस उन्हें ढूंढ रही है।

तब पुलिस ने इस मामले को पुणे ISIS मॉड्यूल केस नाम दिया। इस केस में पुलिस ने तीन और आतंकियों को मोस्ट वॉन्टेड लिस्ट में रखा था। इनके नाम हैं- पुणे का तल्हा लियाकत खान और दिल्ली का रिजवान अब्दुल हाजी अली और अब्दुल्ला फैयाज शेख।