लॉरेंस गैंग का शार्प शूटर गिरफ्तार,ऑटोमेटिक पिस्टल और 9 कारतूस बरामद 
bisnoe-samachar

लॉरेंस गैंग का शार्प शूटर गिरफ्तार,ऑटोमेटिक पिस्टल और 9 कारतूस बरामद 

गैंगस्टर लॉरेंस और उसके सिंडिकेट मेंबर काला राणा के शार्प शूटर प्रदीप सिंह को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है। उससे रोहिणी इलाके में सेक्टर-23 से 2 सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल और 9 कारतूस बरामद किए गए हैं।
WhatsApp Group Join Now
 
लॉरेंस गैंग का शार्प शूटर गिरफ्तार,ऑटोमेटिक पिस्टल और 9 कारतूस बरामद 

Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- गैंगस्टर लॉरेंस और उसके सिंडिकेट मेंबर काला राणा के शार्प शूटर प्रदीप सिंह को दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शनिवार को गिरफ्तार कर लिया है। उससे रोहिणी इलाके में सेक्टर-23 से 2 सेमी ऑटोमेटिक पिस्टल और 9 कारतूस बरामद किए गए हैं।

स्पेशल सेल के कमिश्नर एचजीएस धालीवाल ने बताया कि प्रदीप मूल रूप से उत्तराखंड का रहने वाला है। उसकी उम्र 18 साल है। वह 2022 से गुरुग्राम में अपने किसी दोस्त के पास रह रहा है। वह इंस्टाग्राम पर गैंगस्टर वीरेंद्र प्रताप उर्फ काला राणा की रील्स देखता था।

प्रदीप गैंगस्टर काला राणा से प्रभावित हो गया। अगस्त 2023 में प्रदीप ने फॉलो कर उसे मैसेज कर कहा कि उसे गैंग में शामिल होना है। इसके बाद 2023 में प्रदीप का काला राणा गैंग के ही भानु राणा से सिग्नल ऐप के जरिए संपर्क हुआ। भानु राणा हरियाणा के करनाल का रहने वाला है। उसे दिल्ली में आपराधिक घटनाओं को अंजाम देने का काम सौंपा गया है।

दिल्ली में क्राइम का जिम्मा सौंपा
पूछताछ में प्रदीप ने बताया कि 30 दिसंबर 2023 को भानु राणा ने उसे अगले 7-8 दिनों में कुछ अन्य लोगों के साथ दिल्ली में क्राइम करने का जिम्मा सौंपा था। भानु ने उसे यह भी बताया कि कुछ और लोग उससे दिल्ली में मिलेंगे और इस बारे में डिटेल बाद में दी जाएगी। प्रदीप को रोहिणी इलाके में ही हथियार भी मुहैया कराए गए।

प्रदीप 3 जनवरी को गिरोह के अन्य सदस्यों से मिलने के लिए सेक्टर-23 में आया था। टीम को इसकी सूचना मिली तो उन्होंने इलाके में जान बिछा दिया। जैसे ही प्रदीप आया तो टीम ने उसे पकड़ लिया।

हरियाणा के यमुनानगर का रहने वाला वीरेंद्र प्रताप उर्फ काला राणा लॉरेंस बिश्नोई और काला जठेड़ा का खासमखस है। उस पर हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, एनसीआर, पंजाब में 25 से ज्यादा संगीन मामले दर्ज है। काला राणा फिलहाल जेल में बंद है। राणा ने 2013 में अपराध की दुनिया में कदम रखा और फिर जेल में लॉरेंस के खात संपत नेहरा के जरिए वह गैंग में शामिल हो गया।

काला राणा फर्जी पासपोर्ट के जरिए थाईलैंड भाग गया था। इसके बाद काला राणा का रेड कॉर्नर नोटिस जारी हुआ और उसे थाईलैंड से गिरफ्तार किया गया।

दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पिछले माह वसंत कुंज इलाके से लॉरेंस गैंग के 2 शूटरों को गिरफ्तार किया था। ये दोनों साउथ दिल्ली के एक मशहूर 5-स्टार होटल के पास गोली चलाने वाले थे। वे जेल में बंद अमित और अनमोल बिश्नोई के निर्देश पर काम कर रहे थे। अमित को यह निर्देश अनमोल बिश्नोई से मिला था। फायरिंग का मकसद रंगदारी वसूलना था। लेकिन, इससे पहले ही पुलिस ने दोनों को पकड़ लिया।

इतना ही नहीं, क्राइम ब्रांच टीम ने लॉरेंस और गोल्डी बराड़ के 2 शार्प शूटरों को भी गिरफ्तार किया था। दोनों ने पंजाब के फरीदकोट से पूर्व विधायक दीप मल्होत्रा के दिल्ली स्थित घर पर फायरिंग की थी। गिरफ्तार शूटरों की पहचान आकाश कासा और नितेश के रूप में हुई। दोनों हरियाणा के रहने वाले हैं।