गैंगस्टर लॉरेंस का गुर्गा एक साल के लिए राजपाशा में निरुद्ध ,हिस्ट्रीशीटर​​​​​​​ पर 18 मुकदमे दर्ज
bisnoe-samachar

गैंगस्टर लॉरेंस का गुर्गा एक साल के लिए राजपाशा में निरुद्ध ,हिस्ट्रीशीटर पर 18 मुकदमे दर्ज

हिस्ट्रीशीटर गैंगस्टर लॉरेंस का गुर्गा पवन सोलंकी को पुलिस ने एक साल के लिए राजपाशा में निरुद्ध किया है। इस पर 18 गंभीर मुकदमें हैं। पुलिस इसे 22 नवंबर को उदयपुर से गिरफ्तार कर के लाई थी। अब एक साल तक यह जेल से बाहर नहीं आ सकता है।
WhatsApp Group Join Now
 
गैंगस्टर लॉरेंस का गुर्गा एक साल के लिए राजपाशा में निरुद्ध ,हिस्ट्रीशीटर पर 18 मुकदमे दर्ज

Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- जोधपुर मंडोर थाने का हिस्ट्रीशीटर गैंगस्टर लॉरेंस का गुर्गा पवन सोलंकी को पुलिस ने एक साल के लिए राजपाशा में निरुद्ध किया है। इस पर 18 गंभीर मुकदमें हैं। पुलिस इसे 22 नवंबर को उदयपुर से गिरफ्तार कर के लाई थी। अब एक साल तक यह जेल से बाहर नहीं आ सकता है।

रंगदारी, फायरिंग कर डराना-धमकाना, अवैध हथियार सप्लाई सहित कई मामलों में हिस्ट्रीशीटर पवन सोलंकी लिप्त है। इसके चलते पुलिस ने पवन सोलंकी को समाज विरोधी क्रियाकलाप अधिनियम 2006 राजपासा के तहत निरुद्ध किया गया है।

डीसीपी ईस्ट अमृता दुहान ने बताया कि सरदारपुरा में एक लूट के मामले में जमानत के बाद पवन फरार हो गया। पुलिस को इसकी तलाश थी। उसकी लोकेशन उदयपुर होने पर पुलिस वहां पहुंची तो वह गोआ, नेपाल आदि स्थानों पर छुप गया। फिर से उदयपुर में होने की जानकारी मिली तब 22 नवंबर को इसे गिरफ्तार किया गया। गिरफ्तारी के बाद राजपासा की कार्रवाई की गई। कोर्ट ने राजपासा में एक वर्ष के लिए निरुद्ध करने के आदेश दिए है।

18 मुकदमे दर्ज

33 वर्षीय पवन सोलंकी पर 18 मुकदमें दर्ज है। सोलंकी खुद को लॉरेंस गैंग का गुर्गा बता कर रंगदारी करता है। फायरिंग से जानलेवा हमले, अवैध हथियारों की तस्करी, सरकारी भूमी पर कब्जे जैसे गंभीर मामले दर्ज है। इनमें 13 मामलों में ट्रायल चल रही है। राजपासा में निरुद्ध करने के बाद अब पवन एक साल तक जमानत पर बाहर नहीं आ सकेगा।