कांस्टेबल ने तस्करों से ली रिश्वत, 200 कार्टन शराब लेकर छोड़ा शराब का ट्रक
bisnoe-samachar

कांस्टेबल ने तस्करों से ली रिश्वत, 200 कार्टन शराब लेकर छोड़ा शराब का ट्रक

WhatsApp Group Join Now
 
कांस्टेबल ने तस्करों से ली रिश्वत, 200 कार्टन शराब लेकर छोड़ा शराब का ट्रक

 Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- बुधवार को अजमेर के ब्यावर में पुलिस कांस्टेबल द्वारा शराब तस्करों से शराब के 200 कार्टन शराब गायब करने का मामला सामने आया है. इतना ही नहीं, कांस्टेबल पर अवैध शराब से भरे ट्रक को छोड़ने के लिए 2 लाख रुपए रिश्वत लेने का भी आरोप लगा है. मामले का खुलासा होने के बाद ब्यावर के पुलिस अधीक्षक नरेंद्र सिंह ने आरोपी कांस्टेबल नरेश को सस्पेंड कर दिया है. पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है. 

आरोप है कि कांस्टेबल ने ट्रक पर रखे 200 कार्टनअवैध शराब भी उतार लिए और धमकाते हुए कहा कि अगर तुम्हें जेल नहीं जाना तो अपना मुंह बंद करके रखो. इसके बाद आरोपी कांस्टेबल ने अपने एक साथी को सीकर में 2 लाख रुपए भी दिलवा दिए. 

दरअसल, सीकर से सिरोही शराब तस्करों के नेटवर्क में शामिल ट्रक ड्राइवर और खलासी ने डीजीपी और अजमेर रेंज आईजी लता मनोज और ब्यावर एसपी नरेंद्र सिंह को एक लिखित शिकायत दी है. जिसमें बताया कि 28 जनवरी उनका शराब से भरे ट्रक को जवाजा थाने के कांस्टेबल नरेश और उसके तीन साथियों ने ट्रक को रुकवाया और ट्रक की तलाशी ली, तलाशी में ट्रक मे अवैध शराब मिली.

कांस्टेबल नरेश ने शराब के ट्रक को जब्त करने की बजाय पहले तो ट्रक छोड़ने के एवज में 10 लाख रुपए मांगे बाद में 6 लाख और अंततः 2 लाख रुपए लेकर ट्रक छोड़ने पर राजी हो गया. 

रिपोर्ट के मुताबिक शराब तस्करों ने घटना की जानकारी जब मालिक को दी तो उसे ट्रक ड्राइवर और खलासी की बात पर विश्वास नहीं हुआ. मालिक ने ट्रक ड्राइवर और खलासी से 15 लाख रुपए भुगतान करने को कहा. इससे घबराकर ट्रक ड्राइवर सीकर मंडोता निवासी कैलाश चंद और खलासी दानाराम ने पुलिस अधिकारियों के सामने पूरी सच्चाई बताकर कांस्टेबल की पोल खोल दी.