नागौर से विधायक हनुमान बेनीवाल को मिली जान से मारने की धमकी
bisnoe-samachar

 नागौर से विधायक हनुमान बेनीवाल को मिली जान से मारने की धमकी

WhatsApp Group Join Now
 
 नागौर से विधायक हनुमान बेनीवाल को मिली जान से मारने की धमकी

 Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के सुप्रीमो और नागौर से विधायक हनुमान बेनीवाल को 25 जनवरी को धमकी मिलने की खबर के बाद उनकी सुरक्षा व्यवस्था बढ़ा दी गई. बताया गया कि इंटेलीजेंस को इस बात का इनपुट मिला था. इस मामले पर हनुमान बेनीवाल से Rajasthan Tak ने बात की.

हनुमान बेनीवाल ने कहा- मुझे कोई धमकी नहीं मिली. न कोई टेलीफोनिक धमकी मिली और न ही लेटर आया. 25 जनवरी की शाम को राजस्थान के एक अधिकारी का मैसेज आया था कि उन्हें इंटेलीजेंस से इनपुट मिला है. इनपुट के मुताबिक मेरे जान को खतरा बताया गया और कहा गया कि मैं थोड़ा ध्यान रखूं.

हनुमान बेनीवाल ने कहा कि उन्हें बताया गया- नागौर में 3 शूटर रूके हुए हैं. बेनीवाल ने आगे बताया- नागौर की पुलिस को तो ध्यान ही नहीं था. पीएचक्यू से ही नागौर अजमेर और डीडवाना पुलिस को शतर्क किया गया. मुझे एस्कॉर्ट किया और वहां कमांडर लगाए गए. परसों, कल और आज भी. आज भी विधानसभा के लिए रवाना हुआ तो मुझे एस्कॉर्ट किया गया. मैंने होम सेक्रेटरी और डीजी से बात की. मैंने पूछा कि क्या मामला है? किस गैंग का मामला है? उन्होंने कहा कि बताते हैं.. आप सावधानी रखें….कुल मिलाकर गोलमोल जवाब मिला.

राहित गोदारा के कथित पोस्ट वाली बात पर हनुमान बेनीवाल ने कहा कि लगातार 18 साल से राज्यों के खिलाफ सदन से लेकर सड़क पर लड़ाई लड़ रहा हूं. चंबल के डकैत हों या हार्डकोर अपराधी हों या राजस्थान के गैंगेस्टर हों तो. कहीं-कहीं हो सकता है कि जान का खतरा हो. जो पब्लिक के लिए लड़ता है उसे खतरा रहता ही है. आज के हालात ये हैं कि 2 लाख में कोई किसी को भी कोई गोली मार देगा.. जान सस्ती हो गई है. ये धंधा हो गया है. गौरतलब है कि रोहित गोदारा के कथित पोस्ट में कहा गया था कि सरकार में कुछ लोग प्रमोशन लेने के लिए ये सब कर रहे हैं.

हनुमान बेनीवाल ने कहा- मामले में सीएम भजनलाल शर्मा को बयान देना चाहिए कि हनुमान बेनीवाल को किसी तरह का जान का खतरा नहीं है. हनुमान बेनीवाल कोई छोटा आदमी नहीं है. ये लाखों लोगों के दिल में बसता है.