आईएमडी के अनुसार कड़ाके की सर्दी में इन राज्यों में होगी तेज बारिश
bisnoe-samachar

आईएमडी के अनुसार कड़ाके की सर्दी में इन राज्यों में होगी तेज बारिश

WhatsApp Group Join Now
 
आईएमडी के अनुसार कड़ाके की सर्दी में इन राज्यों में होगी तेज बारिश

Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- देशभर के तमाम हिस्सों में अब मौसम का मिजाज काफी खराब होता दिख रहा है, जिससे कहीं बारिश तो कहीं बर्फबारी का सितम जारी है। पहाड़ों पर हो रही लगातार बर्फबारी से पहाड़ सफेद चादर से ढके हैं, जिससे कई स्थानों पर भूस्खलन की स्थिति भी बनी हुई है।

हालत इतनी बदतर है कि इससे कई मार्ग भी बाधित हैं, जिससे हर कोई परेशान है। पूर्वोत्त राज्यों में भी तापमान गिरने से लोगों को कड़ाके की सर्दी का सामना करना पड़ रहा है, जिससे लोगों की कंपकंपी बंधी हुई है। दिल्ली सहित आसपास के इलाकों में सुबह-सुबह घना कोहरा छाए रहने से राहगीरों को मुसीबतें झेलनी पड़ी।

दक्षिण भारत के कई हिस्सों में बारिश से मौसम काफी खुशनुमा हो गया। इस बीच भारतीय मौसम विभाग(आईएमडी) ने देश के कई राज्यों में बिजली की चमक के साथ बारिश होने की चेतावनी जारी कर दी है।

आईएमडी के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली सहित आसपास के इलाकों में शीतलहर का सितम जारी रहेगा। इसके साथ ही अब धीरे-धीरे कोहरा कम होगा और कड़कड़ाती ठंड में भी गिरावट देखने को मिलेगी। दिन के वक्त धूप निकलने से दिल्ली के अधिकतम तापमान में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।

इतना ही दिल्ली के हिस्सों में घने कोहरे की भी संभावना जताई है। इसके साथ ही तापमान की बात की जाए तो आज न्यूनतम तापमान 6 डिग्री और अधिकतम तापमान 18 डिग्री रहने की उम्मीद है। कोहरे के चलते आज भी फ्लाइट्स और ट्रेनों पर असर देखे को मिल रहा है।

इसके अलावा पंजाब के तमाम हिस्सों में शीतलहर और भी आफत पैदा कर सकती है। हरियाणा व पश्चिम उत्तर प्रदेश में एक या दो स्थानों पर शीतलहर की स्थिति देखने को मिल सकती है। हरियाणा, पंजाब, पश्चिम राजस्थान और बिहार में कई जगह घना कोहरा छाया रह सकता है।

आईएमडी के अनुसार, गंगीय पश्चिम बंगाल, उत्तरी ओडिशा और झारखंड के तमाम इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई है। सिक्किम, असम, अरुणाचल प्रदेश, दक्षिणी तमिलनाडु, लक्षद्वीप और अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में हल्की बारिश का दौर देखने को मिल सकता है। वहीं, पश्चिम उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में कोल्ड डे से लेकर गंभीर कोल्ड डे की स्थिति जारी रह सकती है।