बाड़मेर के पीजी कॉलेज में वार्षिकत्सव में विधायक प्रियंका चौधरी को नहीं बुलाने पर हुआ हंगामा,किया लाठीचार्ज 
bisnoe-samachar

 बाड़मेर के पीजी कॉलेज में वार्षिकत्सव में विधायक प्रियंका चौधरी को नहीं बुलाने पर हुआ हंगामा,किया लाठीचार्ज 

WhatsApp Group Join Now
 
 बाड़मेर के पीजी कॉलेज में वार्षिकत्सव में विधायक प्रियंका चौधरी को नहीं बुलाने पर हुआ हंगामा,किया लाठीचार्ज 

 Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- पीजी कॉलेज के वार्षिक कार्यक्रम में विधायक और NSUI संगठन को न बुलाने पर छात्र कॉलेज के गेट पर धरना देकर बैठ गए। पुलिस ने पहले समझाया फिर लाठी भांज दी। एक छात्र लहूलुहान हो गया। इसके बाद छात्र आक्रोशित हो गए। मामला बाड़मेर के पीजी कॉलेज का है।

यहां वार्षिकत्सव में निर्दलीय विधायक प्रियंका चौधरी और NSUI संगठन को न्योता नहीं दिया गया। इसे लेकर दोपहर 1 बजे से छात्र कॉलेज के सामने प्रदर्शन कर रहे थे। गेस्ट के आने पर स्टूडेंट आक्रोशित हो गए। पुलिस ने स्टूडेंट को गेट से हटाने के लिए लाठीचार्ज कर दिया। पुलिस और कॉलेज प्रशासन के खिलाफ छात्र जमकर नारेबाजी करते रहे।

स्टूडेंट्स ने कहा कि स्थानीय विधायक और एनएसयूआई संगठन को नहीं बुलाकर कॉलेज प्रशासन ने राजनीति की है। प्रोग्राम स्थगित कर नई डेट घोषित कर सभी को बुलाया जाए। मंत्री केके विश्नोई बीजेपी के विधायकों से हमारा कोई विरोध नहीं है।

बाड़मेर पीजी कॉलेज का वार्षिकोत्सव का आयोजन रविवार शाम है। आयोजन में राज्य मंत्री के.के. विश्नोई, चौहटन विधायक और भाजपा जिलाध्यक्ष को बुलाया गया है। स्टूडेंट्स का आरोप है कि स्थानीय बाड़मेर विधायक को राजनीतिक द्वेष भावना से नहीं बुलाया गया है। वहीं छात्र संगठनों को नहीं बुलाया है।

स्टूडेंट् भानाराम चौधरी का कहना है कि कॉलेज प्रशासन ने वार्षिक समारोह का आयोजन किया गया है लेकिन इसमें स्थानीय विधायक को दरकिनार कर दिया गया है। वहीं एनएसयूआई के पदाधिकारियों की अनदेखी की गई है। आज के आयोजन का विरोध प्रदर्शन है। हमारी मांग है कि नई डेट तय करके स्थानीय विधायक और अन्य छात्र सगंठनों को बुलाया जाए। आज का कार्यक्रम होने नहीं देंगे जब तक हमारी मांगे नहीं मानी जाएगी। हम धरने पर बैठे है और हमारा धरना भी जारी रहेगा।

एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष रायचंद चौधरी के मुताबिक हमारे कॉलेज में वार्षिक समारोह है यह बहुत ही खुशी की बात है। मनमानी कर रही आयोजन कमेटी के विरोध में प्रदर्शन है। एक विशेष एबीवीपी संगठन के लोगों को बुलाया जा रहा है। हमारी यहां की स्थानीय विधायक डॉ. प्रियंका चौधरी को नहीं बुलाया गया है। आरोप लगाया कि एक संगठन के लोगों को बुला रहे हो यह कोई एक संगठन की कॉलेज नहीं है।