चाय पिलाते दिखे क्रिकेटर रवि बिश्नोई अपने गांव में, कोन है यह लोग जो चाय पी रहे है
bisnoe-samachar

चाय पिलाते दिखे क्रिकेटर रवि बिश्नोई अपने गांव में, कोन है यह लोग जो चाय पी रहे है

क्रिकेट रवि बिश्नोई चाय पिलाते दिखे यह फोटो सोशल मीडिया पर काफी दिनों से वायरल हो रहा है आज हमारी टीम ने इस फोटो की पड़ताल की इस फोटो की गहराई तक हम पहुंचे आप खबर पूरी देखें तब जाकर का आपको पता चलेगा कि यह फोटो कहां का है और कब का है
WhatsApp Group Join Now
 
Ravi Bishnoi

Bishnoi Samachar Network Delhi भारतीय क्रिकेटर रवि बिश्नोई हाल ही में चाय पिलाते नजर आए। अखर अपडेट की जा रही है। रवि बिश्नोई एक भारतीय अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेटर हैं, जो दाएं हाथ से लेग ब्रेक स्पिन गेंदबाजी करते हैं. वह घरेलू क्रिकेट में राजस्थान का प्रतिनिधित्व करते हैं और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) लखनऊ सुपर जायंट्स के लिए खेलते हैं. बिश्नोई 2020 में अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारतीय टीम का हिस्सा थे और अपने प्रदर्शन के कारण सुर्खियों में आए थे।

 

 

  टीम इंडिया में हर साल कई खिलाड़ी अपनी जगह को सुनिश्चित करते हैं। कई खिलाड़ी भारतीय टीम के लिए लंबा खेलते हैं, जबकि कई खिलाड़ी चंद मैच खेलने के बाद बाहर हो जाते हैं. बदलाव के दौर से गुज़र रही टीम इंडिया में इन दिनों कई खिलाड़ियों को अलग-अलग सीरीज़ के लिए मौका दिया जा रहा है। इस बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें 23 साल के स्टार खिलाड़ी रवि बिश्नोई चाय पिलाते नजर आ रहे है। 
रवि बिश्नोई के चाय पिलाने वाले विडियो की सच्चाई
सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेज़ी के साथ वायरल हो रहा है, जिस में टीम इंडिया के स्टार क्रिकेटर गेंदबाज़ रवि बिश्नोई अपने परिवार में विवाह समारोह में घर आये दोस्त व मेहमान लोगो को चाय पिलाते हुए नज़र आ रहे हैं। वीडियो में देखा जा सकता है कि बिश्नोई हाथ में जग पकड़ कर लोगों को चाय पिला रहे हैं. दावा किया जा रहा है कि वीडियो उनके घर का है. फिलहाल ये वीडियो काफी पसंद भी किया जा रहा है और फैंस उनके उपर जमकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं। 
रवि बिश्नोई राजस्थान के जोधपुर से आते हैं राजस्थान में मेहमान को भगवान माना जाता है। घर आए हुए मेहमान की सेवा घर के मालिक करते हैं ना कि नौकर से करवाते हैं।  राजस्थान में चेक कितना भी बड़ा व्यक्ति बन जाए अपने घर आए हुए व्यक्ति को पानी चाय नाश्ता घर का मालिक खुद करवाता है। शहर की तरह नौकर नहीं रखते हैं गांव में क्योंकि घर आया वहां विमान भगवान का रूप होता है इसलिए उनकी सेवा घर का मालिक खुद करता है चाहे प्रधानमंत्री क्यो ना बन जाये।