बिश्नोई संत राजूराम महाराज के जन्मदिन पर सब लोग आश्चर्य चकित, महाराज ने उठाया धर्म प्रचार का नया कदम 
bisnoe-samachar

बिश्नोई संत राजूराम महाराज के जन्मदिन पर सब लोग आश्चर्य चकित, महाराज ने उठाया धर्म प्रचार का नया कदम 

WhatsApp Group Join Now
 
बिश्नोई संत राजूराम महाराज के जन्मदिन पर सब लोग आश्चर्य चकित, महाराज ने उठाया धर्म प्रचार का नया कदम 

 Bishnoi Samachar Digital Desk नई दिल्ली- राजस्थान के जोधपुर जाजीवाल धोरा से संत राजेंद्रनंद उर्फ राजू महाराज ने अपने जन्मदिन पर बिश्नोई धर्म प्रचार के लिए कुछ अलग ओर सबको आश्चर्य चकित कर दिया। अक्सर आप राजू महाराज को रात्रि में भजन संध्या एव सुबह को हवन करते देखते है। पर उन्होंने अपने जन्मदिन पर एक ऐसा फैसला लिया है। जिससे बिश्नोई समाज और धर्म का ज्यादा से ज्यादा प्रचार और प्रसार होगा। 

 

 

उन्होंने अपने जन्मदिन के अवसर पर भगवान गुरु जंभेश्वर की श्री जम्भवाणी हरिकथा करने का फैसला किया। उन्होंने अपनी प्रथम कथा राजस्थान जोधपुर संभाग के फलौदी जिले में श्री गुरु जम्भेश्वर मन्दिर पल्ली में कथा शुरू की है। आज कथावाचक संत राजूराम महाराज का जन्मदिन था ईस मौके पर धर्म प्रचार के लिऐ कुछ अलग करने का मन बनाया ओर प्रथम दिन श्रोताओं को भक्त प्रहलाद की कथा सुनाई। बिश्नोई समाज पहलाद पंथी माना जाता है।

हालांकि बिश्नोई समाज में अनेक कथाकार है पर यह खबर इसलिए रोचक बन जाती है क्योंकि पिछले 30 वर्षों से जिस संत को गायक कलाकार कहते थे, उन्होंने अनेक पुरस्कार प्राप्त किये संगीतकार में तथा उन्होंने भारत देश के साथ-साथ विदेशों में भी अपनी ओजस्वी वाणी से भजन सुनाए है। तथा अन्तर्राष्ट्रीय कलाकार कहलाऐ। अब इन्होंने संगीत की दुनिया के साथ-साथ गुरु जंभेश्वर की शब्दवाणी का प्रचार करने का फैसला किया है। जिसमें सात दिवसीय कथा का आयोजन होगा। जिसमें भगवान गुरु जंभेश्वर के बारे में तथा शब्दवाणी के बारे में सुनने को मिलेगा।